Pawan Singh और Madhu Sharma का Bhojpuri film Jai Hind Review हिंदी मे

0
Pawan Singh और Madhu Sharma का bhojpuri film Jai Hind Review हिंदी मे

प्रेम जब सच्चा होता है तो धर्म और देश की सरहद भी  टूट जाती है। इसी की बानगी को लेकर रिलीज हुई है bhojpuri फिल्म जय हिंद (Jai Hind)।

स्तरकैस्ट

इस फिल्म के मुख्य किरदार में आपको नजर आएंगे पावर स्टार पवन सिंह, मधु शर्मा, प्रियंका पंडित, निधि झा, नीर सरवर, आकांक्षा अवस्थी,संजय वर्मा, पृथ्वी त्रिपाठी, अनूप अरोरा, परवेज मलिक, अनीता सहगल, प्रेम दुबे, अपूर्व रतन, बृजेश त्रिपाठी और धर्म वर्मा आद। 

डायरेक्टर

फिल्म का लेखन और निर्देशन किया है फिरोज खान ने। फिल्म के निर्माता है अभय सिन्हा, प्रशांत जामवाल, अल्पना शाह, विशाल गोरानी और समीर आफताब।

कहानी

प्रेम कोई बंधन नहीं मानता। जाति धर्म, देश परदेश सभी हदें पार कर जाता है। प्रेम की इसी धारणा पर जय हिंद भोजपुरी फिल्म की नींव रखी गई है।

फिल्म की शुरुआत में ही ड्राइवर का किरदार निभा रहे पवन सिंह। एक अनजान लड़की यानी मधु शर्मा को, ना ही सिर्फ गुंडों से बचाते हैं बल्कि अपने साथ ले जाते हैं और अपने घर में पनाह भी देते हैं। लड़की अपने आप को अनाथ बताती है। पवन सिंह उसे राधा के नाम से अपनी फैमिली से इंस्टिट्यूट कराते हैं। साथ रहते रहते दोनों में प्यार हो जाता है।

पवन के घर वालों को भी राधा बहुत अच्छी लगती है। व्हाट्सएप की सहमति से दोनों की शादी हो जाती है

इस शादी से पवन सिंह के आस पास रहने वाली आकांक्षा अवस्थी के दिल टूट जाता है क्योंकि वह पवन को दिलो जान से चाहती है।

शादी के बाद दोनों अपने कुलदेवता के दर्शन के लिए मंदिर जा रहे होते हैं। रास्ते में इनका एक्सीडेंट हो जाता है। दोनों चोटिल हो जाते है, पर मधु शर्मा की चोट गहरी होती है।

Pawan Singh और Madhu Sharma

मधु शर्मा को जब होश आता है तो वह किसी को भी पहचानने से इंकार करती है, और अपना नाम राधा की जगह रुखसार और घर पाकिस्तान बताती है। जाहिर सी बात है मधु शर्मा की याददाश्त पहले किस एक्सीडेंट में चली गई थी। जो इस एक्सीडेंट में वापस आ जाती है। पवन सिंह का परिवार मधु की इन बातों को सुनकर स्तब्ध रह जाता है। 

राधा पवन सिंह का अपना पति मानने से इंकार कर देती है। पर पवन राधा को बहुत प्यार करते हैं, और वह उसे खुश देखना चाहते हैं। इसलिए वह राधा की मर्जी के मुताबिक उसे अपने घर पाकिस्तान भेज देता है

राधा अपने घर पाकिस्तान पहुंचती है। वहां पहुंचकर उसे पता चलता है कि वह प्रेग्नेंट है। राधा के माता पिता इस बात को दबा देना चाहते हैं ताकि राधा की बदनामी ना हो, ताकि लोग राधा यानी रुखसार को काफिर न समझे।

घर का नौकर इस बात को सुन लेता है। वह जाकर इस बात को फिल्म के विलेन यानी मीर सरवर को बता देता है।

मीर सरवर राधा यानी रुखसार के घर पहुंचता है और उसे कहता है कि तुमने गुनाह किया है। अब नहीं तुम्हारा ईमान रहा और नहीं तुम मुसलमान रहे। तुम्हें तुम्हारी गुनाहों की सजा जरूर मिलेंगे।

रुखसार को 3 दिन की मोहलत देता है और उसे कहता है हिंदुस्तान से अपने सोहर को बुलाओ। और उसे कहो की तुम्हें यहां से ले जाए, वरना तुम्हें यह सजा ए मौत दे दी जाएगी। रुखसार यानी राधा पवन को फोन करती है और सारी कहानी बताती है। यहां से शुरू होती है पवन की पाकिस्तान जाने की जद्दोजहद।

कैसे उनका खात्मा करते हैं? कैसे हिंदुस्तान का परचम लहराते हैं और कैसे जय हिंद का उदघोष करते हैं। यही है पूरी फिल्म का सार। आप इसे पूरी तरह से जानने के लिए। इसे महसूस करने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी Jai Hind।

प्रेम और देश प्रेम की सामंजस के साथ बेहद साफ-सुथरी और मनोरंजक bhojpuri film है Jai Hind।

अभिनय

 पवन सिंह ने हमेशा की तरह अपने पावर स्टार का रुतबा बकरा रखा है। उनकी परफॉर्मेंस पावरफुल है। राधा और रुखसार दोनों ही किरदार में मधु शर्मा की परफॉर्मेंस बेहतरीन है।

फिल्म में छोटा ही सही लेकिन प्रियंका पंडित का किरदार काबिले तारीफ है।

गांव की चुलबुली और अल्हड़ के किरदार के साथ पूरा पूरा न्याय किया है आकांक्षा अवस्थी ने।

सलीम आफताब फिल्म में कृष्ण भगवान के किरदार मैं पूरी तरह पर्फेक्ट लगे हैं।

संजय पांडे एक बार फिर से विलेन के किरदार में लाजवाब लगे हैं।

नीर सरवर का अभिनय और डायलॉग डिलीवरी दोनों ही बेहतरीन है।

Jai Hind Bhojpuri Movie Trailer

जय हिंद फिल्म का गाना

मिश्री के तरह घुलत रह एक अच्छी लोकेशन पर शूट किया एक रोमांटिक सोंग्स है। फिल्मी में एक कव्वाली सुनने को मिलेंगे।

फिल्म में गाने लिखे हैं राजेश मिश्रा, पंकज तिवारी, गोविंद ओझा, विवेक बक्शी, शुभम चंद्रवंशी और शेखर मधुबनी ने। इन गीतों को धुनो में पिरोया है छोटे बाबा ने।

भोजपुरी फिल्म की बात की जाए तो जय हिंद का नाम काफी ऊपर होगा।

डायरेक्टर फिरोज खान ने तकनीकी पक्ष के साथ-साथ शॉर्ट स्पीकिंग और लुक्स भी बेहतरीन रखा है। अश्लीलता से परे इस फिल्म को बनाने के लिए डायरेक्टर फिरोज खान बधाई के पात्र हैं।

हर पक्ष को देखते हुए हम कह सकते हैं की यह फिल्म हर वर्ग के लोगों को पसंद आयेगा। हम इस फिल्म को देते हैं 4 स्टार 5 में से

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here